बिहार से तिहाड़ | From Bihar to Tihar Hindi PDF Download

जेएनयू छात्र संघ के अध्यक्ष कन्हैया कुमार फरवरी 2016 में राजद्रोह के आरोप में गिरफ्तार कर लिए गए। उन्हें तिहाड़ जेल में रखा गया और पटियाला हाउस कोर्ट में वकीलों ने उन्हें पीटा। इस संकट से वे एक युवा राजनीतिक सितारा बन कर उभरे, जिसे बीबीसी ने भारत का एक ऐसा छात्र बताया, जिससे लोगों ने एक ही साथ सबसे ज्यादा प्यार भी किया और नफरत भी। यह किताब बिहार के एक गांव के उनके बचपन से शुरू होकर दिल्ली में उन्हें अचानक सुर्खियों में आने तक की कहानी है, जिसमें जेल में बिताए गए उनके दिनों की दास्तान भी है। बिहार से तिहाड़ दिलचस्प और मज़ेदार है और कन्हैया कुमार की हाजिरजवाबी से भरपूर है।
DownloadTELEGRAM
4.5/5 Votes: 503
Author
Kanhaiya Kumar
Size
1 MB
Pages
134
Language
Hindi

Report this Book

Description

हरेक की अपनी एक कहानी होती है, लेकिन किसी एक शख्स की कहानी दूसरे के लिए कल्पना बन जाती है. अगर आप मुझको समझना चाहते हैं, तब आपको मेरी दुनिया में आना होगा, चीज़ों को उस तरह देखना होगा, जैसे मैं उन्हें देखता हूं. आइए, मेरे साथ इस असाधारण देश के एक साधारण से गांव से आने वाले एक साधारण छात्र की इस राजनीतिक यात्रा पर चलिए

पूर्वकथन

तिहाड़ में आज मेरा पंद्रहवां दिन था. पिछले दिन मुझे दिल्ली हाई कोर्ट से जमानत मिल गई थी, लेकिन कागजी कार्रवाइयों की वजह से आज का दिन भी जेल में ही गुज़रा था.

दोपहर के वक़्त मैं खाना खाकर लेटा हुआ था. तभी एक सिपाही मेरे सेल

में आया. तमाम पाबंदियों के बावजूद जेल में कुछ ऐसे सिपाही थे जो मुझसे

बातें किया करते थे.

‘बस आज आखिरी दिन है. तुम आज रिहा हो जाओगे.

मैं उठ कर उसके करीब, सेल के दरवाजे तक गया. उसने कहा, ‘मुझे एक सवाल का जवाब देना. इसके लिए मैं तुम्हें एक कहानी सुनाऊंगा.’ कहानी कुछ यूं थी…..

किसी राज्य में एक राजा था. वो अपनी प्रजा से बहुत प्यार करता था और बहुत लोकप्रिय था. जनता उसे पसंद करती थी. उसका राज्य काफी समृद्ध था और लोग उसके राज्य में खुश थे. उसकी एक बेटी थी. लेकिन अब राजा बुढ़ापे की ओर बढ़ रहा था और अपने राज्य और जनता, उसकी खुशहाली और उत्तराधिकारी इन तमाम बातों की चिंता करने लगा था.

उसके बाद इस राज्य को कौन चलाएगा और उसकी बेटी से शादी कौन करेगा? इन दोनों सवालों का वो एक हल तलाशना चाहता था. उसने सोचा कि किसी लायक लड़के से अपनी बेटी की शादी कर दूं ताकि वो मेरे बाद…

बिहार से तिहाड़ | From Bihar to Tihar Hindi PDF by Kanhaiya kumar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *