रोटी या चपाती बनाने का व्यापार कैसे करें | How to Start Chapati Making Business in hindi

“नमस्कार दोस्तों”

हमारे देश भारत में अन्न  देवता का दर्जा दिया गया है और अन्न को  ही पीसकर हम चपाती या रोटी बनाते हैं जिसको मुख्य खानों में से एक माना जाता है। रोटी को सेहत की दृष्टि से बहुत ही अच्छा माना जाता है दूसरी तरफ यह बड़ी आसानी से भी प्राप्त हो जाती हैं। बिना रोटी के इंसान ज्यादा दिनों तक जीवित नहीं रह सकता है इसलिए हर किसी को रोटी खाना पसंद है। 

इसी पसंद को देखते हुए चपाती या रोटी का व्यवसाय बहुत अधिक बढ़ रहा है. हमारा देश भारत विकासशील देशों की श्रेणी में आता है इसलिए यहां पर हर दिन निर्माण कार्य चलते रहते हैं जिस वजह से दूर दूर से लोग काम करने के लिए आते रहते हैं. उनके सामने रोटी खाने की बहुत बड़ी समस्या होती है समस्या को दूर करने के लिए लोगों ने टिफिन सर्विस भी चालू कर दी है। लोग टिफिन का खाना खाना बहुत अधिक पसंद करते हैं इसलिए टिफिन सप्लायर की संख्या बहुत अधिक बढ़ रही है।

कैसे करें चपाती या रोटी बनाने का व्यापार?

आज की इस लेख में हम आपको चपाती या रोटी बनाने का व्यवसाय कैसे करें – के बारे में संपूर्ण जानकारी देने वाले हैं इसलिए को शुरू से लेकर अंत तक पूरा पढ़ें क्योंकि इसमें हम आपको यह भी बताएंगे कि आप कम पैसों में यह कार्य किस तरह से कर सकते हैं।

चपाती या रोटी बनाने का व्यवसाय आप दो तरीके से कर सकते हैं पहला तरीका है यदि आप बड़े स्तर पर यह कार्य करना चाहते हैं आप मशीन की सहायता से यह व्यवसाय कर सकते हैं लेकिन दूसरा तरीका यह है यदि आप छोटे स्तर पर इस कार्य को करना चाहते हैं आप घर से भी इस कार्य की शुरुआत कर सकते हैं. इस लेख में हम आपको दोनों ही तरीके बताने वाले हैं। 

मशीन द्वारा चपाती बनाने का व्यवसाय |Machine Making Chapati Business

आप बड़े स्तर पर चपाती बनाने का व्यवसाय शुरू करने वाले हैं तो  तकनीकी इतनी अधिक विकसित हो चुकी है कि यह कार्य बड़ी आसानी से कर सकते हैं। आप बड़े स्तर पर मशीन द्वारा रोटियां बना कर अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं। 

तकनीकी का विकास इस कदर हो चुका है कि आप इन ऑटोमेटिक मशीन द्वारा 1 घंटे में 1000 से अधिक रोटियां बना सकते हैं इन ऑटोमेटिक मशीन की खास बात यह है कि मैं आपको ना तो आटे को गुथना  पड़ता है माही उनकी लोई  बनानी पड़ती है इस काम के लिए आपको अलग से दो मशीनें भी जाती हैं जिसे आप का काम जल्दी और बड़ी आसानी से हो जाता है यह दो मशीनें होती है इनमें एक मशीन मैदा मिक्सर और दूसरी मशीन बॉल कटर की होती है। 

इस मशीन की और भी बहुत सी खास बातें हैं जिसे इस मशीन से आपको सभी रोटियां एक ही आकार की मिलती हैं आप इन रोटियों को अपने हिसाब से मोटा या पतला सेट कर सकते हैं। इन ऑटोमेटिक मशीन पर आपको ज्यादा लेबर की भी आवश्यकता नहीं होती है एक व्यक्ति बड़ी आसानी से इस मशीन का संचालन कर सकता है। 

मशीन द्वारा चपाती बनाने की प्रक्रिया | Chapati making process by machine

हम आपको चपाती मशीन द्वारा चपाती बनाने की प्रक्रिया बताने जा रहे हैं जिनके बारे में जानकर आप बड़ी आसानी से चपाती बना सकते हैं।

  1. चपाती बनाने की यह मशीनें ऑटोमेटेड होने के साथ एलपीजी की सहायता से चलती हैं इस मशीन में बहुत सारे बर्नर लगे होते हैं तथा इसमें बहुत सारे चेंबर भी होते हैं इन चेम्बरो  के ऊपर ही यह बर्नर लगे होते हैं। 
  2. इसके बाद आपको मैदा मिक्सर मशीन की सहायता से अपने आटे को अच्छी तरीके से गूथ  लेना है रुपए समय आपको यह जरूर ध्यान रखना है कि आटा आपका बिल्कुल मुलायम होना चाहिए क्योंकि यदि आटा सख्त हुआ तो आपकी लो या टूटने लगेंगे रोटियों में फुलाव भी  नहीं आएगा। 
  3. अब गुथे  हुए मुलायम आटे की बॉल कटर मशीन की सहायता से लोईया बनाकर तैयार कर ले जब आप लोइया तैयार कर लेते हैं उसके बाद मशीन में एक सिस्टम होता है जिसमें बॉल  डालने पर यह अपने आप उनको प्रेस करके रोटियों के आकार में बदल देगा। 
  4. आपका काम रहेगा जो रोटी बनती जाए उन्हें आप पलटते रहे जिससे  रोटियां जले नहीं कभी-कभी रोटियां सही तरीके से पकती नहीं है इसके लिए आपको आउट तवे  का उपयोग करना होता है। 

इस तरह आप हमारे द्वारा बताए हुए तकनीक का उपयोग करके आसानी से मशीन से कम समय में अधिक रोटियां बना सकते हैं। 

जब सभी रोटियां बनकर तैयार हो जाती है तो अब आपके सामने एक रहता है कि आप इन रोटियों की कैसे पैकेजिंग करें क्योंकि जब आप सही तरीके से पैकेजिंग नहीं करेंगे तो आपसे कितना भी अच्छा खाना बनाओ वह बेकार ही लगता है। 

पैकेजिंग करते समय आपको बहुत सारी सावधानियां बरतनी चाहिए, पैकेजिंग करते समय आपको एक बार जरूर ध्यान रखनी है आपको अपने खाने को फॉयल रैपिंग पेपर की सहायता से ही पैक करना है क्योंकि इसकी सहायता से रोटी लंबे समय तक गर्म रहती है और ताजा भी रहती है। 

चपाती मशीन के लिए सस्ता रो मटेरियल कैसे लें? | how to get cheap row material for chapati making machine

यदि आप चपाती बनाने का व्यवसाय बड़े स्तर पर करना चाहते हैं इसमें आपको बहुत अधिक मात्रा में रो मटेरियल की आवश्यकता होती है आज हम आपको बताएंगे कि आप सस्ता रो मटेरियल कैसे खरीद सकते हैं। 

आप बिना पिसा अनाज क्विंटल के हिसाब से खरीद सकते हैं बाद में आप इस अनाज को मिल  से पिसवा सकते हैं ऐसा इसलिए बजा रहे हैं क्योंकि ऐसा करना आपके लिए थोड़ा सस्ता पड़ सकता है बजाय आपके पिसा हुआ आटा मार्केट से खरीदने के। 

यदि आप अनाज क्विंटल के हिसाब से खरीदते हैं तो यह आपको 1800 – 1900 हिसाब से मिल जाता है लेकिन यदि आप मार्केट से पिसावा का खरीदते हैं तो आपको 23 से ₹24 प्रति किलो के हिसाब से चुकाना पड़ता है जो कि आपके लिए थोड़ा महंगा पड़ सकता है। 

चपाती बनाने की मशीन की कीमत कितनी होती है? | how much does chapati making machine cost

अलग-अलग जगह इस मशीन की कीमत अलग-अलग होती है इन मशीनों में भी कई मशीन बड़ी होती है तो कुछ मशीनें छोटी होती हैं लेकिन एक अनुमानित आप एक सही सी  मशीन खरीदना चाहेंगे तो आपको कम से कम 2.50 लाख  रुपए तक चुकाने पड़ते हैं। 

मशीन के द्वारा अपना व्यापार आरंभ करने के लिए आपके पास कम से कम ₹300000 से ₹400000 होना अनिवार्य है तभी आप यह व्यवसाय  शुरू कर सकते हैं। 

चपाती बनाने की मशीन के लिए कुल स्थान | Total space for chapati making machine

मध्यम आकार की चपाती मशीन को बढ़ाने के लिए आपके पास कम से कम “36×37” का आकार होना आवश्यक है। इसके अलावा आप पैकेजिंग भी करेंगे तो इसके लिए आपको अलग से स्थान की आवश्यकता होगी कम से कम सवा 100 फुट होना आवश्यक है। 

चपाती मशीन से प्रतिदिन का लाभ | Daily benefits of chapati machine

यदि आप मशीन के द्वारा चपाती का व्यवसाय करते हैं तो आप अच्छा खासा मुनाफा प्रतिदिन कमा सकते हैं अगर रो मटेरियल और मजदूर का खर्चा कुल 1500 रुपए बनते होंगे हम इस मशीन से प्रति घंटा 1000 तक रोटियां बना सकते हैं अगर एक रोटी की कीमत ₹3 लेकर चलते हैं हम 7 से 8 घंटे काम कर कर दिन के ₹4000 से ₹6000 बड़ी आसानी से मुनाफा कमा सकते हैं। 

चपाती मेकिंग व्यवसाय की मार्केटिंग कैसे करें? | How to marketing chapati making Business

मशीन लेकर आकर रोटियां बनाना आसान होता है लेकिन अपनी व्यवसाय  की मार्केटिंग करना बहुत मुश्किल होता है। इसके लिए आपकी मार्केट में जानकारी होना बहुत आवश्यक है आप अस्पताल, कंपनियां, अन्य बड़े बड़े उद्योगों के साथ बातचीत कर सकते हैं और उन्हें अपनी कैंटीन स्थापित कर सकते हैं। 

इसके साथ ही आप टिफिन सर्विस भी लोगों को दे सकते हैं इसके लिए आपको कुछ लोगों की आवश्यकता होगी जो आपका यह कार्य कर सकें यहां से भी आप अच्छा खासा मुनाफा कमा सकते हैं। 

एक और तरीका है आप अपनी मशीन को ब्याह शादियों में किराए पर देकर भी अच्छा पैसा कमा सकते हैं शादियों में आप ₹2000 से ₹3000 प्रति दिन के चार्ज से मशीन किराए पर दे सकते हैं। 

चपाती व्यवसाय के लिए लाइसेंस कैसे बनवाएं? | how to get license for chapati making business

यदि आप अपना व्यवसाय  बड़े स्तर पर शुरू करना चाहते हैं आपके पास लाइसेंस होना बहुत अनिवार्य है, क्योंकि यह व्यवसाय खाद आपूर्ति का व्यवसाय है इसलिए आपको लाइसेंस लेना बहुत अनिवार्य है। 

आपको सबसे पहले अपने व्यवसाय को एम.एस.एम.ई. के तहत पंजीकृत करवाना होगा इसके साथ ही आपको अपने नजदीकी क्षेत्र के स्वास्थ्य विभाग से भी लाइसेंस लेना अनिवार्य है। इसके साथ ही आपको Fssai से भी लाइसेंस लेना अनिवार्य है। 

Conclusion

आशा करता हूं दोस्तों आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी बहुत अच्छे से समझ में आ गई होगी।  इसमें हमने आपको चपाती या रोटी बनाने का  व्यवसाय कैसे शुरू करें के बारे में संपूर्ण जानकारी दे दी है, आशा करता हूं कि आपको यह जानकारी बेहद अच्छी लगी होगी। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.